शरद यादव फैसले से खुश नहीं - AskBihar24X7 - Bihar & Jharkhand News

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

Monday, July 31, 2017

शरद यादव फैसले से खुश नहीं

हाईकोर्ट से राहत ज़रुर मिल गई है...लेकिन जदयू के पूर्व अध्यक्ष और नीतीश के राजनीतिक सफर में सबसे बड़े सलाहकार शरद यादव फैसले से खुश नहीं । शरद अब खुलकर अपनी नाराज़गी जात रहे और कह रहे हैं कि कालाधन और पनामा पेपर लीक वाले भ्रष्टाचार का क्या हुआ।   आरजेडी का साथ छोड़ नीतीश कुमार ने बीजेपी के साथ सरकार बनायी...तब से ही जदयू पार्टी के वरिष्ठ नेता शरद यादव नाराज बताए जाते हैं....इधर उधर से लगातार खबरे आ रही थी कि शरद नाराज़ लोगों के साथ बैठक कर रहे हैं...लेकिन आज से पहले शरद यादव ने मीडीया के सामने कुछ नहीं कहा..लेकिन अब शरद यादव ने जवान खोली है। ......बिहार में महागठबंधन टूटने से नाराज जेडीयू के पूर्व अध्यक्ष और पार्टी सांसद शरद यादव पहली बार मीडिया के सामने आए।  शरद यादव ने कहा कि बिहार जनता ने हमें बीजेपी के साथ आने के लिए जनादेश नहीं दिया था. उन्होंने कहा कि गठबंधन टूटने का उन्हें अफसोस है।   शरद यादव के ये बोल ज़ाहिर है नीतीश कुमार को अच्छे नहीं लग रहे होंगे...लेकिन लालू यादव ने तो उन्हे विपक्ष का नेतृत्व करने का न्योता तक दे रखा है। .....वैसे नीतीश के खिलाफ तेवर अपनाने वालों मे शरद अकेले नहीं.......राज्यसभा सांसद अली अनवर महागठबंधन टूटने को राष्ट्रीय आपदा बता चुके है...इसके अलावा लेफ्ट के नेता भी शरद यादव से मुलाकात कर नई रणनीति बना रहे हैं। काला धन और पनामा पेपर लीक का भी मामला उठाया है।   शरद यादव ने काला धन की वापसी और पनामा पेपर्स में सामने आए भारतीयों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं होने का मामला उठाया है। ऐसा कर उन्होने नीतीश कुमार के भ्रष्टाचार को लेकर जीरों टॉलरेंस की नीति पर सीधा हमला बोला है। नीतीश कुमार के लिए जवाब देना मुश्किल हो सकता है कि इनके लिए ज़िम्मेदार बीजेपी से गठबंधन...लालू परिवार के भ्रष्टाचार से अलग कैसे है।

                                                                   

No comments:

Post a Comment