Live News

रविवार, जनवरी 20, 2019

जनतांत्रिक लोकहित पार्टी की चुनाव की रणनीति

आज जनतांत्रिक लोकहित पार्टी की एक महत्वपूर्ण बैठक आसन् लोकसभा चुनाव की रणनीति एवं वर्तमान राजनैतिक परिदृश्य पर विचार-विमर्श हेतु पार्टी कार्यालय में राष्ट्रीय एवं प्रदेश पार्टी की विस्तारित बैठक हुई । जिसमे पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व विधायक सतीश कुमार ,राष्ट्रीय उपाध्यक्ष अरुण कुमार सिन्हा , राष्ट्रीय महासचिव सत्यप्रकाश नारायण , राष्ट्रीय कोषाध्यक्ष मुकेश कुमार , प्रदेश कार्यकारी अध्यक्ष श्री अर्बेन्द्र कुमार उर्फ़ ललन सिंह , अभियान प्रभारी डॉ राकेश रंजन , सदस्यता प्रभारी रणजीत प्रसाद कुशवाहा , प्रवक्ता अमर कुमार मांझी , मीडिया-प्रभारी दीपक कुमार प्रमुख तौर पर उपस्तिथ हुए बैठक में पार्टी के लगभग जिलाध्यक्ष , युवा प्रकोष्ठ के प्रदेश पदाधिकारी , अल्पसंख्यक , अतिपिछड़ा प्रकोष्ठ के अध्यक्ष भी उपस्तिथ रहे ।
                   बैठक पश्चात प्रेस-वार्ता को संबोधित हुए पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष पूर्व विधायक सतीश कुमार ने निर्वाचन-आयोग को धन्यवाद संप्रेषित करते हुए बताया कि निर्वाचन -आयोग ने आसन लोकसभा चुनाव 2019 हेतु बिहार में पार्टी को कप-प्लेट(CUP AND SAUCCER)  चुनाव -चिन्ह आवंटित किया हैं । उन्होंने कहा कि विकल्प की राजनीती की नयी सुबह की पहली भोग्य -साधन कप-प्लेट हैं ।किसानों , मजदूरों एवं बेरोजगारों के नए सुबह का पहला आगाज़ हैं कप-प्लेट । नयी सोच , नई उमंग के नए राजनैतिक कार्यकर्ता की Good Morning And Good Evening हैं कप-प्लेट। कप-प्लेट जब हैं मेरे पास चाय बेचनेवाले की टीम में मचेगी खलबली ।
                                                    श्री कुमार ने बताया कि बैठक में प्रमुखता से यह निर्णय लिया गया हैं कि अतिपिछड़ों एवं महादलित की बहुलता वाले लोकसभा सीटों पर पार्टी अवश्य उम्मीदवार देगी तथा खेत एवं पेट अर्थात खाद्दान उत्पादन एवं बेरोजगारी के अहम सवालों से विमुख हो सवर्ण-आरक्षण के नाम पर संवैधानिक छेड़छाड़ , धार्मिक आयोजन , मंदिर-मस्जिद पर बवाल , तीन तलाक , गौ-माता , राष्ट्रमाता , छंदम राष्ट्रवाद के नाम पर बिना युद्ध शहीद होते जवान कि लाश पर राजनीती करनेवालों को इस परिवर्तन कि धरती मानवता ,करुणा  एवं जय -विज्ञानं की संदेशवाहक धरती बिहार में सबक सिखाएंगे  ।
                                      श्री कुमार ने कहा कि शराबबंदी ,बालूबंदी ,अब मछली , मुर्गाबंदी के नाम पर माफिया तंत्र को विकसित करनेवाली , किसानो , मजदूरों , अतिपिछड़ों , महादलितों के विकास के हेतु  आवश्यक शिक्षा एवं स्वास्थ्य सेवा क्षेत्र को मटियामेट करनेवाली , जीरो टॉलरेंस , भ्रष्टाचार की नारा देकर विकास योजनाओ में 40 प्रतिशत कमीशन वसूलने वाली , बिहार को आपराधिक राज्य बनाने वाले कुर्सी कुमार , (पलटू राम) को भी सबक सिखाने का कार्य इस आसन् लोकसभा चुनाव में जलोपा के कार्यकर्ता करेंगे ।
                                            श्री कुमार ने कहा कि सत्ता में चिपके रहने एवं बिहार के विकास का मोह रखनेवाले मुख्यमंत्री यह बतावे कि विशेष राज्य के दर्जे का क्या हुआ ? तुम्हे समझाना होगा कि बिना रोजगार-सृजन के विकास हो सकता है क्या ? सच्चाई हैं कि बिहार में रोजगार-सृजन के नाम पर ठेकेदारी-प्रथा ,श्रम-कानून की वाह्यता नहीं लागु करनेवाली व्यवस्था प्रचलित हुई ।सुई का भी एक कारखाना नहीं बन सका । मेगा-फ़ूड पार्क , स्टार्टअप , कौशल -विकास योजना बिहार में कागज़ी छलावा बन गया । जुमलेबाजों के साथ मिल बिहार एवं बिहारी स्वाभिमान को छलनेवाले को जनता कतई माफ़ नहीं करेगी तथा जलोपा के कार्यकर्ता जनजागरूकता का अलख लोकसभा चुनाव में जलाये रखेंगे ।

                   इस बैठक को पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष अरवेन्द्र कुमार उर्फ़ ललन सिंह, अभियान प्रभारी डॉ. राकेश रंजन, प्रदेश मीडिया प्रभारी दीपक कुमार, (युवा) प्रदेश मीडिया प्रभारी राज सिन्हा ने………….भी सम्बोधित किया।

         







कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Back To Top