‘हल्ला बोल रैली’ में पहुँचे हजारों लोगों ने एनआरसी, एनपीआर, सीएए को कहा ना--भारतीय मित्र पार्टी - AskBihar24X7 - Bihar & Jharkhand News

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

Sunday, January 12, 2020

‘हल्ला बोल रैली’ में पहुँचे हजारों लोगों ने एनआरसी, एनपीआर, सीएए को कहा ना--भारतीय मित्र पार्टी

 ‘हल्ला बोल रैली’ में पहुँचे हजारों लोगों ने एनआरसी, एनपीआर, सीएए को कहा ना

न्यूज़ डेस्क : भारतीय मित्र पार्टी-- द्वारा आज मधुबनी जिला के रहिका प्रखंड स्थित मलंगिया हाई स्कूल मैदान में भारतीय मित्र पार्टी के द्वारा आयोजित मोदी-शाह का खुल गया पोल हल्ला बोल रैली में हज़ारों-हज़ारों की संख्या में लोग पहुँचे। मंच की अध्यक्षता ललित कुमार सिंह ने की मंच संचालन जिलाध्यक्ष राजेश रंजन महतो ने किया वहीं पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष धनेश्वर महतो ने कहा कि पीएम मोदी यह आरोप लगा रहे हैं कि विपक्षी पार्टियों पर की हमलोग अफवाह उड़ा रहे हैं। अफवाह फैला रहे हैं लेकिन हकीकत तो ये है कि मोदी और अमित शाह जी पूरे भारत में अफवाह फैलाने का काम कर रहे हैं। और दो बार अफवाह फैला कर ही सत्ता में आए हैं। आपलोगों की राजनीतिक बुनियाद ही झूठ पर टिकी है। 2014 के लोकसभा चुनाव में आपने अन्नदाता किसान से झूठ बोला कि हमारी सरकार बनेगी तो हम किसानों का कर्ज माफ कर देंगे, विदेश से काला धन वापस लाएंगे, युवाओं से बोला कि प्रतिवर्ष 2 करोड युवाओं को नौकरी देंगे। 100 दिनों में महंगाई कम करेंगे। आपने आधार कार्ड का विरोध किया था आपने एफडीआई का विरोध किया था। वहीं उन्होंने कहा कि 22 दिसंबर को दिल्ली के रामलीला मैदान से आपने डंके की चोट पर कहा था कि देश में कोई टेंशन सेन्टर नहीं है। वहीं गृहमंत्री अमित शाह के राज्यसभा में डंके की चोट कहा कि हम एनआरसी को लागू करके रहेंगे। आसाम में 19 लाख 6657 व्यक्तियों की नागरिकता समाप्त कर दी गई जिसमें लगभग 15 लाख हिन्दू है। आप देश के हिंदुओं को भारत मे बसाने की बात करते हैं और देश के हिंदुओं को बेघर कर रहे हैं। आज़ादी के 73 साल बाद पूछा जा रहा है कि हम किस देश के वासी हैं। हमारे माँ-बाप कौन थे उनका जन्म स्थान क्या था और कितने परसेंट लोग अपने माँ-बाप का जन्मतिथि बताने में सक्षम होंगे। एनपीआर भारत की जनगणना जनसंख्या कांग्रेस सरकार ने भी किया था इनमें कहीं कोई शक नहीं है, लेकिन उसने बाप-दादा की जन्मतिथि नहीं मांगी थी उन्होनें केवल जनगणना किया था, जो व्यक्ति अपने बाप दादा का जन्मतिथि बताने में सक्षम नहीं होंगे मालूम नहीं आप उनके साथ क्या करेंगे यह आपको अस्पष्ट करना पड़ेगा। हज़ारों की संख्या में आज भारतीय मित्र पार्टी के नेताओं व कार्यकर्ताओं ने एनपीआर, एनआरसी,सीएए का पुरजोर विरोध किया। इस कर्यक्रम में भारतीय मित्र पार्टी के कई बड़े नेता कई जिला के जिलाध्यक्ष सहित भारी संख्या में कार्यकर्ता उपस्थित हुए।




No comments:

Post a Comment