पीडीएस केन्द्रों के द्वारा अनाज की कालाबाज़ारी पर सरकार चुप क्यूँ--मणि भूषण सेंगर - AskBihar24X7 - Bihar & Jharkhand News

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

Friday, May 08, 2020

पीडीएस केन्द्रों के द्वारा अनाज की कालाबाज़ारी पर सरकार चुप क्यूँ--मणि भूषण सेंगर


एक तरफ जहाँ पूरे देश में लॉक डाउन है जिसके कारण आम लोगों को काफी परेशानी हो रही है ।और सरकार उन्हें राशन और राहत मुहैया कराने की आश्वासन दे रही है। जब इस परिस्थिति में पीडीएस केंद्रों के अधिकृत लोगों द्वारा इस स्तर का व्यवहार किया जा रहा है तो बाकी स्थिति में क्या होता होगा ?  बिहार के सभी जिलों में लगभग सभी जगहों में लोग पीडीएस केन्द्रों के अधिकृत व्यक्तियों की रंगदारी एवं कालाबाजारी एवं घपलेबाजी से परेशान हैं ।ताजा मामला बिहार के भोजपुर जिले के बहुआरा गांव, प्रखंड जगदीशपुर का है। वहां के सैकड़ों लोगों ने विगत 14 अप्रैल को वहां के पीडीएस केंद्र के अधिकृत व्यक्ति नंदकिशोर सिंह द्वारा उस केंद्र पर की जा रही मनमर्जी ,रंगदारी एवं घपलेबाजी का आवेदन राज्य खाद्य आयोग सहित कई जगहों पर दिया है। लेकिन अभी तक कोई सुनवाई नहीं हुई है ।वहां लोगों को नाही खाद्य सामग्री दी जाती है ना ही किरासन तेल दिया जाता है ।और नहीं तो उन्हें धमकाया जाता है कि आपको जहां शिकायत करना है कर दीजिए। इससे भी जब पीडीएस केंद्र के अधिकृत व्यक्ति को मन नहीं भरा भरा तो अब गांव से 3 किलोमीटर दूर जाके पीडीएस केंद्र को स्थापित करता है ।अब बताएं वृद्ध लोग और इस लोक डाउन की स्थिति में लोग 3 किलोमीटर कैसे जाएंगे? इस तरह के मामले को लेकर जब pluss news के संवाद दाता राज कृष्णन ने पड़ताल की तो मामला सही निकला... जिसकी एक कॉपी हमें भी प्राप्त हुई.....पटना हाई कोर्ट के PIL एक्सपर्ट मणि भूषण प्रताप सेंगर ने इस मामले पर कहे कि
ऐसा मजाक क्यों बन रहा है?  जिन लोगों के द्वारा ऐसे पीडीएस केंद्रों के अधिकृत लोगों के द्वारा सरकार की माखोल उड़ाई जा रही है उस पर त्वरित कार्रवाई क्यों नहीं की जाती ?


No comments:

Post a Comment