कौन है PIL एक्सपर्ट एमपी सेंगर ? कौन थे चर्चित PIL एक्सपर्ट एमपी गुप्ता ? - AskBihar24X7 - Bihar & Jharkhand News

Breaking

Post Top Ad

Post Top Ad

Wednesday, May 20, 2020

कौन है PIL एक्सपर्ट एमपी सेंगर ? कौन थे चर्चित PIL एक्सपर्ट एमपी गुप्ता ?

      


जनहित याचिका भारतीय संविधान या किसी कानून में परिभाषित नहीं है, बल्कि यह उच्चतम न्यायालय के संवैधानिक व्याख्या से व्युत्पन्न है, जिसका कोई अंत‍‍‍र्राष्ट्रीय समतुल्य नहीं है और इसे एक विशिष्ट भारतीय संप्रल्य के रूप में देखा जाता है। आज हम बात करेंगे पटना हाई कोर्ट के वरिष्ठ वकील व जनहित याचिका एक्सपर्ट मणिभूषण प्रताप सेंगर की जो हमेशा जनता के लिए लड़े .....बड़े से बड़ों घोटालों का पर्दाफाश इन्होंने किया,अगर चाहते तो मोटी रकम लेकर मामले को रफा दफा कर सकते थे लेकिन दौलत तो इन्हें विरासत में ही इतना मिला है कि ये पैसे के लिए कभी नही सोचते बल्कि जनता के हित के लिए सोचते है और लगातार बड़े बड़े घोटालों को उजागर करते रहते है कई बार जान का खतरा भी बना रहा लेकिन इनका कहना है कि जाको राखे साईया मार सके न कोई और फिर अपने काम में लग जाते है,आइए जरा नजर डालते है इनके द्वारा किए गए काम पर....

सुपर 30 के आनंद कुमार और उनसे जुड़े लोगों के खिलाफ सीबीआई जांच की मांग करने वाले अधिवक्ता मणिभूषण प्रताप सेंगर पटना हाईकोर्ट में पीआईएल के एक्सपर्ट अधिवक्ता के रुप में जाने जाते हैं। वह अब तक सौ से अधिक घोटाले को उजागर कर चुके हैं। इसमें लालू यादव परिवार से जुड़ा मिट्टी घोटाला के साथ शौचालय घोटाला, स्कालरशिप घोटाला, चर्चित सृजन घोटाला, इंटर मीडिएट टॉपर स्कैम, बीएसएससी पेपर लीक घोटाला, भागलपुर बटेश्वर बांध घोटाला सहित अन्य कई बड़ा घोटाला शामिल है। 

अधिवक्ता मणिभूषण प्रताप सेंगर पर इन बड़े घोटालों को उजागर करने को लेकर आधा दर्जन बार जानलेवा हमला भी हो चुका हैं .....

मणिभूषण प्रताप सेंगर की शादी पटना हाई कोर्ट के जाने माने अधिवक्ता व PIL में महारत हासिल रखने वाले M.P.GUPTA की बेटी रागिनी सेंगर के साथ हुआ जो खुद भी पटना हाई कोर्ट में वकील है --अपने ससुर जी के सानिध्य में आने के बाद मणि  प्रताप सेंगर भी जनहित याचिका एक्सपर्ट में महारत हासिल कर लिए...

कौन थे चर्चित PIL एक्सपर्ट एमपी गुप्ता ?


एम पी गुप्ता यानि महेंद्र प्रसाद गुप्ता पटना हाईकोर्ट के जाने माने जनहित याचिका एक्सपर्ट थे....जनहित याचिका दायर करके पटना में एम्स जैसे संस्थान को खुलवाया. भागलपुर दंगे की जांच करवाई पटना जंक्शन के पास से जेल को बेउर में शिफ्ट करवाएं हार्डिंग पार्क बस स्टैंड से सिपारा बस स्टैंड इन्हीं के जनहित याचिका के कारण गया 20 सालों से रुकी हुई पंचायती चुनाव को पुनः एक बार करवाएं जनहित याचिका दायर करके महापौर के कार्यकाल को 1 साल से बढ़ाकर 5 साल के लिए इन्हीं के जनहित याचिका में न्यायालय के आदेश पर किया गया इतना ही नहीं बिहार राज्य पुल निगम जिसे कोई जानता भी नहीं था बिहार में बिहार में पुल की जाल बिछाने के लिए जिसमें चिरैयाटांड़ करबिगहिया पुल शामिल है जनहित याचिका करके बिहार राज्य पुल निगम जैसी निगम को फिर से खड़ा किया यह कुछ ऐसे जनहित याचिका है जो स्वर्गीय एमपी गुप्ता और कहे तो पटना उच्च न्यायालय के वर्तमान जनहित याचिका एक्सपर्ट अधिवक्ता एम पी सेंगर के ससुर जी की जनहित याचिकाओं की उपलब्धियां हैं।
ब्यूरो रिपोर्ट 
राज कृष्णन ,प्लस न्यूज़ 
बिहार /झारखण्ड 

                                        

No comments:

Post a Comment