Live News

रविवार, मई 17, 2020

PIL एक्सपर्ट सेंगर ने नीतीश सरकार को प्रवासी मजदूर की परेशानी को देखते हुए किए बड़ा वादा


कोरोना महामारी को लेकर पूरे देश मे लॉक डाउन लगा है,कल कारखाना, उद्योग धंधा, स्कूल कॉलेज, ट्रेन, हवाई सेवा सहित सभी चीजें बंद है..लेकिन इस महामारी और बंदी मे सबसे ज्यादा मार अगर किसी पे पड़ा है तो वो है मजदूर...मजदूरों के सामने अब घर लौटने के अलावा कोई चारा नहीं है..क्यूकी अब इनका बोझ उठाने वाला मालिक ने हाथ खड़े कर दिए है...ऐसे मे  देश की विभिन्न प्रांतों से प्रवासी मजदूर किसी-किसी तरह से अपने गांव लौटने में लगे हैं। पुरुषों को तो जो परेशानी हो रही है, लेकिन सबसे अधिक परेशानी महिलाएं और बच्चों की है। छोटे-छोटे बच्चों को लेकर यह परिवार किसी तरह ट्रकों आदि पर सवार होकर बिहार लौट रहे है..बिहारी मजदूरों की संख्या सबसे ज्यादा है जो पूरे देश मे फैले है.. क्युकी हमारे बिहार मे उद्योग धंधा नहीं है.. सबसे पिछड़े राज्यों मे बिहार की गिनती होती है... अब ऐसे मे यहाँ के मजदूरों को जिल्लत होकर अपना घर लौटने पड़ रहा है....मजदूरों के ऐसी हालत देखकर पटना हाई कोर्ट के PIL एक्सपर्ट मणि भूषण प्रताप सेंगर ने प्लस न्यूज़ के साथ खास बातचीत मे बिहार सरकार यानि नीतीश कुमार को प्रवाशी मजदूरों के हित को धयान मे रखते हुए जनता के हितैसी विधायक, सांसद, मंत्री को काफी पीछे छोड़ते हुए पटना से सटे बिहटा के विक्रम मे 50 कट्ठा जमीन दान मे देने का वादा किए जिससे वहाँ सरकार गरीब मजदूरों के लिए कोई उद्योग लगाए जिससे उन्हें रोजगार मिले और वो रोजी रोटी के लिए बाहर जाने से बचे..PIL एक्सपर्ट मणि भूषण सेंगर हमेशा जनता के हित मे समाजसेवा करते रहते है और जनहित याचिका भी दायर करते है

: कौन है PIL मणि भूषण प्रताप सेंगर?

सुपर 30 के आनंद कुमार और उनसे जुड़े लोगों के खिलाफ सीबीआई जांच की मांग करने वाले अधिवक्ता मणिभूषण प्रताप सेंगर पटना हाईकोर्ट में पीआईएल के एक्सपर्ट अधिवक्ता के रुप में जाने जाते हैं। वह अब तक सौ से अधिक घोटाले को उजागर कर चुके हैं। इसमें लालू यादव परिवार से जुड़ा मिट्टी घोटाला के साथ शौचालय घोटाला, स्कालरशिप घोटाला, चर्चित सृजन घोटाला, इंटर मीडिएट टॉपर स्कैम, बीएसएससी पेपर लीक घोटाला, भागलपुर बटेश्वर बांध घोटाला सहित अन्य कई बड़ा घोटाला शामिल है। अधिवक्ता मणिभूषण प्रताप सेंगर पर इन बड़े घोटालों को उजागर करने को लेकर आधा दर्जन बार जानलेवा हमला भी हो चुका
ब्यूरो रिपोर्ट, राज कृष्णन
प्लस न्यूज़, पटना 

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Back To Top