Live News

शनिवार, जून 06, 2020

कोरोना बंदी ने सासाराम के हैचरी उद्योग को पूरी तरह से चौपट कर दिया

                             
 कोरोना बंदी ने सासाराम के हैचरी उद्योग को पूरी तरह से चौपट कर दिया है। जिन हैचरी कारोबारियों ने मुर्गी तथा बत्तख के चूजे तैयार किए थे हवा ट्रांसपोर्टिंग के अभाव में ज्यादातर मर गए जिस कारण कारोबारियों को लाखों का नुकसान हुआ है बता दें कि सासाराम के इलाके में इन दिनों बड़े पैमाने पर लोग हैचरी उद्योग को विकसित किए थे लेकिन इस लॉक डाउन ने कारोबारियों के कमर तोड़ दिया। बता दें कि यहां से जो चूजे तैयार होते हैं वह हजारीबाग, डाल्टेनगंज, गोड्डा, न्यू जलपाईगुड़ी, रांची आदि जगहों पर भेजे जाते हैं लेकिन लॉक डाउन में लाखों के तैयार चूजे मर गए। चुकी कोरोना के साथ बर्ड फ्लू का भी खतरा सामने आ गया। जिस कारण समस्या और बढ़ गई। कारोबारी का कहना है कि फिलहाल उन लोगों के लिए सरकार तथा बैंकों के पास कोई मुकम्मल योजना नहीं है बैंक जाने पर भी किसी प्रकार की मदद की उम्मीद नहीं दिखी ऐसे में यह कारोबारी काफी परेशान है। अब फिर से मुर्गी बत्तख आदि के चूजे तैयार किए जा रहे हैं। बता दें कि सासाराम इलाके में इन दिनों हैचरी उद्योग काफी तेजी से विकसित हो रहा था। लेकिन लॉक डालने इस पर ब्रेक लगा दिया है।
 बाईट-- कृष्णा महतो (हैचरी कारोबारी)
ब्यूरो रिपोर्ट राज कृष्णन
प्लस न्यूज़ पटना
                                                   
Egg Composition — The Culinary Pro

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Back To Top