Live News

Sunday, October 18, 2020

शर्मनाक:चुनाव प्रचार मे कोई भी दल शिक्षा की बात नहीं कर रहा-PIL expert मणिभूषण सेंगर

 


बिहार में शिक्षा की कितनी इज्जत है और भविष्य क्या होने वाला है?इसका अंदाजा अब लगाया जा सकता है ।यहां पर कोई भी राजनीतिक दल है वह चाहे हमारे वर्तमान पढ़े-लिखे इंजीनियर मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी की हो या फिर वह खुद भी हो। या कम पढ़े लिखे तेजस्वी यादव। कोई भी गुणवत्तापूर्ण शिक्षा एवं शैक्षणिक माहौल की बात अपने चुनाव प्रचार में नहीं कर रहा ।कोई यह नहीं कह रहा कि जितने भी गुण हीन शिक्षकों की बहाली हुई है। उनकी बहाली रद्द की जाएगी ।और एक गुणवत्तापूर्ण शैक्षणिक माहौल में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा बच्चों को दी जाएगी। बल्कि सभी लोग यही बात कर रहे हैं कि हम आ गए हमारी सरकार बन गई। तो हम 25000 लड़कियों को देंगे। खाना खिलाएंगे ।तो कोई कह रहा है कि हम समान काम के लिए समान वेतन देंगे ।कोई कह रहा है कि हम स्कूटी देंगे। मजाक बनाकर रख दिया है। शिक्षा है या वेश्या खाना।ऐसी स्थितियों में बिहार को शिक्षा में आगे बढ़ने की परिकल्पना भी स्वप्न से ज्यादा कुछ नहीं हो सकती।

शर्म आती है मुझे माननीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी पर भी। कि वह तो पढ़े लिखे हैं  वह ऐसी बात क्यों कर रहे हैं। कि हमारी सरकार बनेगी तो हम ₹25000 देंगे। मान लिया कि तेजस्वी कम पढ़ा लिखा है। वह कुछ भी बोल दिया। अनुभवहीन है। आप तो पढ़े लिखे थे। आपने एक भी बार गुणवत्तापूर्ण शैक्षणिक माहौल में गुणवत्तापूर्ण शिक्षा देने की बात नहीं की। बिहार के शैक्षणिक स्तर का कुछ भला नहीं हो सकता ।जब तक ऐसे राजनेता हमारे बिहार में राजनीति करेंगे। और जन प्रतिनिधित्व करेंगे।


मेरा तो आम जनता से यही अपील है ।कि जो राजनेता और जो सरकार यह बात कहें कि हमने जितनी भी गुण हीन शिक्षकों की गलत बहाली कर दी है ।उन सब की बहाली रद्द करेंगे ।और एक सही शैक्षणिक माहौल शिक्षा के लिए पैदा करेंगे ।उसे ही अपना वोट दें। शिक्षा को वैश्या समझने वाले को अपना वोट ना दें।#NitishKumar #SushilKumarModi #CMBihar #tejasviPrasadYadav #CMOBihar #Biharassemblyelection2020

No comments:

Post a Comment

Back To Top