शुल्क वृद्धि वापस लेने की ख़ुशी मे जदयू शिष्टमंडल द्वारा धन्यवाद ज्ञापन दिया गया - AskBihar24X7 - Bihar & Jharkhand News

Breaking

Post Top Ad

Sunday, September 12, 2021

शुल्क वृद्धि वापस लेने की ख़ुशी मे जदयू शिष्टमंडल द्वारा धन्यवाद ज्ञापन दिया गया

जदयू नेता कन्हाई पटेल के नेतृत्व में  ओरिएंटल कॉलेज गुलजारबाग पटना सिटी में महाविद्यालय प्रशासक द्वारा सारे मदो में शुल्क वृद्धि वापिस लेने और पुराने शुल्क को लागू करने की खुशी में जदयू शिष्टमंडल द्वारा धन्यवाद ज्ञापन दिया गया । इस अवसर पर जदयू कार्यकर्ताओ ने महाविद्यालय प्रशासक के मुख्य कमेटी के अध्यक्ष , सचिव सी ए एम मोतीउर रहमान ,प्राचार्य डॉक्टर सैय्यद अफजल इकबाल , हेड क्लर्क आलमगीर होदा , और अन्य महाविद्यालय कर्मी को शुल्क वृद्धि वापिस लेने के लिए आभार व्यक्त किया ।


साथ ही कार्यकर्ताओ ने मिठाई बांटकर खुशी का इजहार किया । कॉलेज के छात्रों ने माला पहनाकर कार्यकर्ताओ और कॉलेज के कर्मियों का स्वागत किया । महाविद्यालय द्वारा शुल्क वृद्धि वापिस लेने के फैसले से कॉलेज प्रशासक , कॉलेज कर्मी , जदयू कार्यकर्ता , अभिभावक और छात्रों में काफी हर्षोल्लास का वातावरण देखा गया । कॉलेज प्रशासक द्वारा शुल्क वृद्धि वापिस लेने के सन्दर्भ में बताया गया कि इंटर और स्नातक का फार्म शुल्क 300 की जगह अब 250 और नामांकन शुल्क पूर्व की भाती कर दिया गया है ।

पुस्तकालय शुल्क 100 समस्त विद्यार्थियों के लिए अनिवार्य से स्वैच्छिक पूर्व की भांति कर दिया गया है । सीएलसी फार्म और फीस पूर्व की भांति किया गया है । उसी प्रकार से आचरण प्रमाण पत्र का फीस पूर्व निर्धारित शुल्क के अनुसार कर दिया गया है । सारे मदो में शुल्क वृद्धि को खारिज कर पूर्व निर्धारित शुल्क को व्यवस्थापक द्वारा 08/ 09/2021  से विद्यार्थियो के लिए लागू कर दिया गया है । इस मौके पर जदयू नेता कन्हाई पटेल ने कहा कि यह जीत देवतातुल्य जदयू कार्यकर्ताओ की भेदभाव रहित  कड़ी परिशर्म का प्रतिफल की हैं । कॉलेज प्रशासक के प्रति हम आभार व्यक्त करते हैं ।

कॉलेज प्रशासक, जदयू कार्यकर्ता , अभिभावक और छात्रों को जीत की बधाई देते हैं । और वो लोग जो समय पर साथ छोड़कर धोका देते हैं , वैसे लोगों से कहना है कि विपत्ति वीरों को आजमाती है । बुरे वक्त पर पीठ नहीं सीना दिखाना चाहिए । डरे नहीं , लड़े और विजई प्राप्त करे । इस शिष्टमंडल में कन्हाई पटेल , राजमणि पण्डित , अधिवक्ता रवि गुप्ता , शम्भू सैगल , राजीव वर्मा , सन्नी यादव , आशीष कुमार,राज कृष्णा , श्याम पाठक , विशाल ठाकुर ,जयवंती देवी , पप्पू मेहता , चक्रवर्ती राजा बाली एवम् रवि राजवीर सिंह मुख्य रूप से शमिल हुए ।


No comments:

Post a Comment