Live News

गुरुवार, अक्तूबर 21, 2021

पीएम ने कोरोना संकट में एसआईएस की भूमिका को सराहा

देश ने कोरोना वैक्सीन के 100 करोड़ डोज का आंकड़ा पूरा कर इतिहास रच दिया है। 100 करोड़ डोज पूरे होने के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जब दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में डॉक्टरों, स्वास्थ्य कर्मियों और फ्रंटलाइन वर्करों का हौसला बढ़ा रहे थे तभी उनकी निगाह अस्पताल में तैनात देश के सबसे बड़े और प्रतिष्ठित निजी सुरक्षा एजेंसी एसआईएस के सुरक्षाकर्मी पर पड़ी। ड्यूटी पर तैनात इस सुरक्षाकर्मी पर नजर पड़ते ही प्रधानमंत्री उसके पास पहुंचे और उसका कुशलक्षेम पूछा। साथ ही यह भी जानकारी ली कि कोरोना के संकटकाल में उसने कैसे मरीजों और उनके परिजनों की सेवा की है।


एसआईएस के इस सुरक्षाकर्मी ने प्रधानमंत्री को बताया कि वह कैसे उस संकटकाल में खुद के साथ अपने घर-परिवार को उसने सुरक्षित रखते हुए कोरोना के मरीजों की सेवा की है। एसआईएस के प्रबंध निदेशक ऋतुराज सिन्हा ने निजी क्षेत्र के एक सुरक्षाकर्मी के प्रति प्रधानमंत्री के इस सम्मान का ह्रदय से स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने हमारे सुरक्षाकर्मी का हौसला बढ़ाया है। क्योंकि इन्होंने कोरोना के संकटकाल में देश की निस्वार्थ सेवा की है। ऋतुराज सिन्हा ने बताया कि जिस सुरक्षाकर्मी से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बात की है, उसका ना रमेश वर्मा है और वह गोरखपुर का रहने वाला है। अपनी ट्रेनिंग पूरी करने के बाद वह पिछले तीन वर्षों से एसआईएस में कार्यरत है। श्री सिंहे ने कहा कि एसआईएस के सुरक्षाकर्मियों ने न केवल कोरोनाकाल में मरीजों और उनके परिजनों की सेवा की है बल्कि टीकाकरण में भी इन्होंने पूरे समर्पण के साथ बड़ी और महत्वपूर्ण भूमिका अदा की है। श्री सिन्हा ने अपने सुरक्षाकर्मियों का हौसला बढ़ाने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रति अपना जताया है।  




कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

Back To Top