Live News

Tuesday, April 19, 2022

बाबू वीर कुंवर सिंह की जयंती पर मैं केंद्र सरकार से उन्हें भारत रत्न देने की मांग करता हूँ-PIL एक्सपर्ट मणिभूषण प्रताप सेंगर

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह 23 अप्रैल को  बिहार के दौरे पर आएंगे. वह बाबू वीर कुंवर सिंह की जन्मस्थली जगदीशपुर में 23 अप्रैल को आयोजित आजादी के अमृत महोत्सव कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि शिरकत करेंगे. दरअसल आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर अमृत महोत्सव के तहत देश भर में विविध कार्यक्रम हो रहे हैं. इसमें 1857 की क्रांति के नायक रहे वीर कुंवर सिंह की जयंती उनके पैतृक स्थान जगदीशपुर में मनाई जाएगी. विजयोत्सव पर एक तरफ जहाँ सियासत चल रहा है वही दूसरी तरफ पटना हाई कोर्ट के वरिष्ठ वकील व PIL एक्सपर्ट मणिभूषण प्रताप सेंगर ने बाबू वीर कुंवर सिंह के लिए केंद्र सरकार से भारत रत्न देने की मांग करके राजनेता के बीच हलचल पैदा कर दी है. उन्होंने कहा है कि कुंवर सिंह की जयंती सभी जाति विशेष के लोग धूम धाम से मनाते है ऐसे मे उनके लिए भारत रत्न की मांग क्यूँ नहीं उठाई जानी चाहिए?


आपको बता दे कि 23 अप्रैल के कार्यक्रम ने विपक्षी दलों के पंख झकझोर दिए हैं, राष्ट्रीय जनता दल ने कहा है कि “किसी भी राजनीतिक दल को वीर कुंवर सिंह की विरासत को हथियाने की कोशिश नहीं करनी चाहिए। राजद प्रवक्ता मृत्युंजय तिवारी ने कहा कि उन्हें एक विशेष जाति और यहां तक ​​कि राष्ट्रवाद के शुभंकर के रूप में सीमित करने का प्रयास नहीं किया जाना चाहिए वही JDU ने भाजपा के कार्यक्रम की खुले तौर पर आलोचना नहीं की है, लेकिन पार्टी पदाधिकारियों ने कहा कि वे इस विचार से सहज नहीं हैं कि भाजपा वीर कुंवर सिंह को "राष्ट्रवाद के खुले तौर पर प्रदर्शन" के लिए इस्तेमाल करने की कोशिश कर रही है.


ब्रिटिश ईस्ट इंडिया कंपनी के खिलाफ 1857 के भारतीय विद्रोह में एक प्रमुख व्यक्ति, वीर कुंवर सिंह बिहार की राजनीति में एक चर्चा बिंदु के रूप में उभरा है। पिछले हफ्ते, भाजपा ने घोषणा की कि वह 12 जिलों के लोगों को एक साथ लाएगी और भोजपुर जिले के जगदीशपुर में, जहां स्वतंत्रता सेनानी का जन्म हुआ था , सामूहिक रूप से 75,000 से अधिक राष्ट्रीय ध्वज लहराने का आयोजन करेगी, ताकि 23 अप्रैल को "गिनीज वर्ल्ड रिकॉर्ड" दर्ज किया जा सके .कुंवर सिंह की जयंती के उपलक्ष्य में एक कार्यक्रम पहले राज्य सरकार द्वारा जगदीशपुर में आयोजित किया जाता था, लेकिन केंद्र इस वर्ष इसे “आजादी का अमृत महोत्सव” के हिस्से के रूप में आयोजित कर रहा है, जो स्वतंत्रता के 75 वर्ष मनाने की पहल है। इस कार्यक्रम में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह शामिल होने वाले हैं.

राज कृष्णन, प्लस न्यूज़, पटना 


No comments:

Post a Comment

Back To Top